दही वड़ा रेसिपी

दही वड़ा एक स्वादिष्ट तली हुई दाल पकौड़ी है, जिसके ऊपर हम दही, चटनी और मसालों के साथ डालकर खाते है। यह एक प्रसिद्ध भारतीय चाट रेसिपी और बहुत लोकप्रिय स्ट्रीट फूड है।

दही वड़ा रेसिपी

दही वड़ा खाने में बहुत स्वादिष्ट होता है। त्यौहार या अन्य किसी अवसर पर तला खाकर आपकी तबियत तृप्त हो गयी हो तो दही वड़ा आपके पेट का भी ध्यान रखेगा और स्वाद का भी।

दही वड़ा एक भारतीय व्यंजन है, जिसे आपकी रसोई में कुछ आसानी से उपलब्ध सामग्री का उपयोग करके तैयार किया जा सकता है। दही वड़ा एक प्रसिद्ध उत्तर भारतीय साइड डिश है जिसका आप कभी भी आनंद ले सकते हैं।

रेसिपी वीडियो :

⇒ इस रेसिपी को बनाए और नीचे अपनी टिप्पणियाँ मेरे साथ शेयर करें।

नुस्खा कार्ड :

दही वड़ा रेसिपी
Print Pin
5 from 2 votes

दही वड़ा रेसिपी : नरम और मुलायम वड़े बनाने की विधि IN HINDI

दही वड़ा एक स्वादिष्ट तली हुई दाल पकौड़ी है, जिसके ऊपर हम दही, चटनी और मसालों के साथ डालकर खाते है। यह एक प्रसिद्ध भारतीय चाट रेसिपी और बहुत लोकप्रिय स्ट्रीट फूड है।
Course नाश्ता (Snack)
Cuisine उत्तर भारतीय (North Indian)
Prep Time 30 minutes
Cook Time 30 minutes
Soaking Time 7 hours
Total Time 8 hours
Servings 24 सर्विंग

सामग्री

वड़ा के बैटर के लिए सामग्री :

  • 1 कप धुली उड़द की दाल
  • 1/2 कप धुली मूंग दाल
  • नमक स्वादअनुसार
  • 2 बड़े चम्मच पानी दाल पीसने के लिए या आवश्यकतानुसार
  • डीप फ्राई करने के लिए तेल

वड़ा भिगोने के लिए सामग्री :

  • 3-4 कप पानी
  • 1/4 छोटा चम्मच हींग
  • 1/2 छोटा चम्मच नमक

अन्य सामग्री :

  • 2 कप गाढ़ा ताजा दही
  • इमली की चटनी आवश्यकतानुसार
  • हरी चटनी आवश्यकतानुसार
  • 1 बड़ा चम्मच धनिया पत्ती बारीक कटी हुई
  • 1 छोटा चम्मच काला नमक
  • 1 छोटा चम्मच लाल मिर्च पाउडर
  • 1 छोटा चम्मच भुना जीरा पाउडर
  • 1 छोटा चम्मच काली मिर्च पाउडर

विधि

वड़ा के लिए घोल तैयार करने की विधि :

  • सभी आवश्यक सामग्री ले लीजिए।
  • उड़द दाल और मूंग दाल को पानी से तब तक धोएं जब तक पानी साफ न हो जाए और दोनों दाल को 6-7 घंटे या रात भर के लिए पर्याप्त पानी में भिगो दें।
  • भिगोने के बाद दाल का आकार लगभग दोगुना तक बढ़ जाएगा। दाल से सारा पानी निकाल दें।
  • दाल को ग्राइंडर जार या ब्लेंडर में डालें।
  • आवश्यकतानुसार एक बार में 1-2 चम्मच पानी डालकर इसे बारीक पीस लें।
  • घोल को छूने पर, ये दानेदार महसूस नहीं होना चाहिए। मैंने इसमे सिर्फ़ 2 से 3 बड़े चम्मच पानी ही है। दाल की गुणवत्ता और मिक्सरकी स्पीड के आधार पर, आप कम या अधिक पानी डाल सकते हैं।
  • बहुत अधिक पानी न डाले अन्यथा मिश्रण (घोल) पतला हो जाएगा; घोल गाढ़ा होना चाहिए और इसमें कोई भी टूटी हुई दाल का दाना नहीं होना चाहिए क्योंकि वड़ा बहुत ज्यादा क्रिस्पी हो जाता है और बहुत सारा तेल भी सोखता है।
  • इसे एक बड़े कटोरे में निकाल ले और नमक भी डाल दे।
  • अच्छी तरह से मिलाएं और पिसी हुई दाल को कम से कम 5-7 मिनट तक अच्छे से फैंट लीजिए।
  • यह कदम बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि यह तय करेगा कि डीप फ्राई करने के बाद आपके दही वड़े नरम और स्पंजी बनेगे। बैटर को अच्छे से फेटने से घोल का रंग पीले से लगभग सफेद में बदल जाता है।
  • घोल की सही स्थिरता की जांच करने के लिए हम फ्लोटिंग टेस्ट करेगे, उसके लिए एक छोटे कटोरे में थोड़ा पानी लें।
  • पानी में थोड़ा सा बैटर डालें। अगर बैटर ऊपर से बहने लगे मतलब बैटर तैयार है। और अगर बैटर पानी के तले मे बैठ जाता है तो मतलब घोल पतला है। बैटर अगर पतला हो जाए तो उसमे कुछ बड़े चम्मच सूजी डालकर, घोल को ठीक करे और फिर दोबारा इसे चेक करे।

वड़ा तलने की विधि :

  • मध्यम आंच पर वड़े डीप फ्राई करने के लिए एक कड़ाही या पैन में तेल को गर्म करें।
  • जब तेल मध्यम गर्म हो जाए, तो अपनी उंगलियों या एक चम्मच के बीच में नींबू के आकार जितना घोल लें और इसे धीरे-धीरे से तेल में डाल दें।
  • एक बार में जितने आ जाए उतने वड़े डाल दे।
  • वड़ा को मध्यम आँच पर तले और जब वे हल्के सुनहरे हो जाएं, तब उन्हें धीरे से पलट दें।
  • वड़े को क्रिस्पी और सुनहरे भूरे रंग का होने तक फ्राई करें। इन्हे लगातार चलाते हुए चारो ओर से एक समान सेक ले।
  • जब यह सुनहरे रंग के हो जाए तब इन्हे कड़ाई से निकाले और पेपर टॉवेल बिछाई हुए प्लेट पर रख ले।
  • इसी तरह बचे हुए बैटर के भी वड़े बना कर तैयार कर लें।

तले हुए वड़े को पानी में भिगोने की विधि :

  • एक बार जब सभी वड़े तल जाएं, तो एक चौड़े कटोरे या पैन में 3-4 कप पानी लें।
  • पानी मे नमक और एक चुटकी हींग डालें।
  • पानी को गुनगुना गरम कर लीजिए।
  • जैसे ही पानी गरम हो जाए इसमें वड़े डाल दीजिए।
  • वड़े अब 25-30 मिनट तक को भीगने दें।
  • आधे घंटे तक वड़े भिगोने के बाद, तेल की बूंदें सतह पर तैरने लगेंगी और वड़ा भी नरम हो जाएगे।
  • आप देखेंगे कि वड़ा भी अपना रंग बदल देगा। साथ ही, वे आकार में थोड़ा बढ़ भी जाएंगे।
  • इसके बाद हम वड़े से अतिरिक्त पानी को निचोड़ देगे, प्रत्येक वड़ा को पानी से निकाले और अपनी हथेलियों के बीच धीरे से दबाएं ताकि अतिरिक्त पानी निकल जाए।
  • इसे धीरे से करें अन्यथा, वड़े टूट जाएगे और ऐसा करने से ज्यादातर तेल निचोड़ कर भी निकल जाएगा।
  • सभी वड़ों को निचोड़ कर प्लेट में रखे।

दही वड़ा परोसने की विधि :

  • एक बड़े कटोरे में 2 कप ताजा ठंडी दही लें।
  • इसमे पीसी हुए चीनी और 1/4 कप पानी डालें।
  • इसे अच्छे से मिक्स करे और फेट ले ताकि दही स्मूद हो जाए, इलेक्ट्रिक ब्लेंडर का उपयोग न करें अन्यथा दही बहुत पतली हो जाएगी।
  • एक प्लेट में या एक कटोरी में 4-5 वड़ा रखे।
  • समान रूप से दही को पूरी तरह से वड़ों को कवर करने तक एक समान मात्रा में डालें।
  • अब इस पर इमली की चटनी डाले।
  • इसके बाद, हरे धनिये की चटनी को भी डाले।
  • फिर इस पर लाल मिर्च पाउडर, काला नमक, काली मिर्च पाउडर और भुना जीरा पाउडर छिड़कें।
  • धनिया पत्ती से गार्निश करें और दही वड़ा तुरंत परोसें।

विधि (Dahi Vada Banane Ki Vidhi Hindi Me) :

वड़ा के लिए घोल तैयार करने की विधि :

1. सभी आवश्यक सामग्री ले लीजिए।

2. उड़द दाल और मूंग दाल को पानी से तब तक धोएं जब तक पानी साफ न हो जाए और दोनों दाल को 6-7 घंटे या रात भर के लिए पर्याप्त पानी में भिगो दें।

3. भिगोने के बाद दाल का आकार लगभग दोगुना तक बढ़ जाएगा। दाल से सारा पानी निकाल दें।

4. दाल को ग्राइंडर जार या ब्लेंडर में डालें।

5. आवश्यकतानुसार एक बार में 1-2 चम्मच पानी डालकर इसे बारीक पीस लें।

6. घोल को छूने पर, ये दानेदार महसूस नहीं होना चाहिए। मैंने इसमे सिर्फ़ 2 से 3 बड़े चम्मच पानी ही है। दाल की गुणवत्ता और मिक्सरकी स्पीड के आधार पर, आप कम या अधिक पानी डाल सकते हैं।

7. बहुत अधिक पानी न डाले अन्यथा मिश्रण (घोल) पतला हो जाएगा; घोल गाढ़ा होना चाहिए और इसमें कोई भी टूटी हुई दाल का दाना नहीं होना चाहिए क्योंकि वड़ा बहुत ज्यादा क्रिस्पी हो जाता है और बहुत सारा तेल भी सोखता है।

8. इसे एक बड़े कटोरे में निकाल ले और नमक भी डाल दे।

9. अच्छी तरह से मिलाएं और पिसी हुई दाल को कम से कम 5-7 मिनट तक अच्छे से फैंट लीजिए।

10. यह कदम बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि यह तय करेगा कि डीप फ्राई करने के बाद आपके दही वड़े नरम और स्पंजी बनेगे। बैटर को अच्छे से फेटने से घोल का रंग पीले से लगभग सफेद में बदल जाता है।

11. घोल की सही स्थिरता की जांच करने के लिए हम फ्लोटिंग टेस्ट करेगे, उसके लिए एक छोटे कटोरे में थोड़ा पानी लें।

12. पानी में थोड़ा सा बैटर डालें। अगर बैटर ऊपर से बहने लगे मतलब बैटर तैयार है। और अगर बैटर पानी के तले मे बैठ जाता है तो मतलब घोल पतला है। बैटर अगर पतला हो जाए तो उसमे कुछ बड़े चम्मच सूजी डालकर, घोल को ठीक करे और फिर दोबारा इसे चेक करे।

वड़ा तलने की विधि :

1. मध्यम आंच पर वड़े डीप फ्राई करने के लिए एक कड़ाही या पैन में तेल को गर्म करें।

2. जब तेल मध्यम गर्म हो जाए, तो अपनी उंगलियों या एक चम्मच के बीच में नींबू के आकार जितना घोल लें और इसे धीरे-धीरे से तेल में डाल दें।

3. एक बार में जितने आ जाए उतने वड़े डाल दे।

4. वड़ा को मध्यम आँच पर तले और जब वे हल्के सुनहरे हो जाएं, तब उन्हें धीरे से पलट दें।

5. वड़े को क्रिस्पी और सुनहरे भूरे रंग का होने तक फ्राई करें। इन्हे लगातार चलाते हुए चारो ओर से एक समान सेक ले।

6. जब यह सुनहरे रंग के हो जाए तब इन्हे कड़ाई से निकाले और पेपर टॉवेल बिछाई हुए प्लेट पर रख ले।

7. इसी तरह बचे हुए बैटर के भी वड़े बना कर तैयार कर लें।

तले हुए वड़े को पानी में भिगोने की विधि :

1. एक बार जब सभी वड़े तल जाएं, तो एक चौड़े कटोरे या पैन में 3-4 कप पानी लें।

2. पानी मे नमक और एक चुटकी हींग डालें।

3. पानी को गुनगुना गरम कर लीजिए।

4. जैसे ही पानी गरम हो जाए इसमें वड़े डाल दीजिए।

5. वड़े अब 25-30 मिनट तक को भीगने दें।

6. आधे घंटे तक वड़े भिगोने के बाद, तेल की बूंदें सतह पर तैरने लगेंगी और वड़ा भी नरम हो जाएगे।

7. आप देखेंगे कि वड़ा भी अपना रंग बदल देगा। साथ ही, वे आकार में थोड़ा बढ़ भी जाएंगे।

8. इसके बाद हम वड़े से अतिरिक्त पानी को निचोड़ देगे, प्रत्येक वड़ा को पानी से निकाले और अपनी हथेलियों के बीच धीरे से दबाएं ताकि अतिरिक्त पानी निकल जाए।

9. इसे धीरे से करें अन्यथा, वड़े टूट जाएगे और ऐसा करने से ज्यादातर तेल निचोड़ कर भी निकल जाएगा।

10. सभी वड़ों को निचोड़ कर प्लेट में रखे।

दही वड़ा परोसने की विधि :

1. एक बड़े कटोरे में 2 कप ताजा ठंडी दही लें।

2. इसमे पीसी हुए चीनी और 1/4 कप पानी डालें।

3. इसे अच्छे से मिक्स करे और फेट ले ताकि दही स्मूद हो जाए, इलेक्ट्रिक ब्लेंडर का उपयोग न करें अन्यथा दही बहुत पतली हो जाएगी।

4. एक प्लेट में या एक कटोरी में 4-5 वड़ा रखे।

5. समान रूप से दही को पूरी तरह से वड़ों को कवर करने तक एक समान मात्रा में डालें।

6. अब इस पर इमली की चटनी डाले।

7. इसके बाद, हरे धनिये की चटनी को भी डाले।

8. फिर इस पर लाल मिर्च पाउडर, काला नमक, काली मिर्च पाउडर और भुना जीरा पाउडर छिड़कें।

9. धनिया पत्ती से गार्निश करें और दही वड़ा तुरंत परोसें।

1 thought on “दही वड़ा रेसिपी”

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Scroll to Top