सूजी गोलगप्पा पूरी रेसिपी

सूजी गोलगप्पा पूरी को सूजी, मैदा, नमक और बेकिंग सोडा के साथ तैयार की जाती है। सूजी के साथ बनी चीजों को सूजी गोलगप्पा पूरी या सूजी के गोलगप्पे कहा जाता है। सूजी के गोलगप्पों का स्वाद गेंहू के आटे के गोलगप्पों से थोड़ा अलग होता है।

पानी पूरी का नाम सुनते ही मुंह में पानी आ जाता है। इन्हैं गोलगप्पे, गुपचुप, फुचका या फुचकी भी कहते हैं, गोलगप्पे गेहूं के आटे और सूजी से बनाये जाते हैं।

गोलगप्पे हर किस‌ी को बहुत पसंद होते हैं और खाने में बहुत भी बहुत जायकेदार होते है। इनका स्वाद कई अलग-अलग तरीके का होता है। गोलगप्पे का स्वाद गोलगप्पे के पानी स‌े बढ़ता है।

पानी पूरी स्नैक भारत मे स्ट्रीट फूड के नाम से मशहूर रूप से सराहना की जाती है और कई राज्यों में अलग-अलग नामों से इसे जाना जाता है। इसे बंगाल में फुच्चका या पुचका, ओडिशा में गुपचुप, दिल्ली में गोलगप्पा और मुम्बई और दक्षिण राज्यों में पानी पूरी कहा जाता है।

⇒ इस रेसिपी को बनाए और नीचे अपनी टिप्पणियाँ मेरे साथ शेयर करें।

नुस्खा कार्ड :

Print Pin
4.5 from 2 votes

सूजी गोलगप्पा पूरी रेसिपी : कुरकुरे गोलगप्पा पानी पूरी बनाने की विधि IN HINDI

सूजी गोलगप्पा पूरी को सूजी, मैदा, नमक और बेकिंग सोडा के साथ तैयार की जाती है। सूजी के साथ बनी चीजों को सूजी गोलगप्पा पूरी या सूजी के गोलगप्पे कहा जाता है। सूजी के गोलगप्पों का स्वाद गेंहू के आटे के गोलगप्पों से थोड़ा अलग होता है।

Course नाश्ता (Snack)
Cuisine भारतीय (Indian)
Prep Time 30 minutes
Cook Time 20 minutes
Total Time 50 minutes
Servings 40 गोलगप्पे
Calories 130

सामग्री

  • ½ कप सूजी / रवा
  • 1 बड़ा चम्मच मैदा
  • एक चुटकी बेकिंग सोडा
  • एक चुटकी नमक
  • डीप फ्राई करने के लिए तेल

विधि

गोलगप्पे के लिए आटा गूँथने की विधि :

  • सभी आवश्यक सामग्री ले लीजिए।
  • एक कटोरा लें और सूजी, मैदा, नमक, और बेकिंग सोडा को छलनी में डालें।
  • इसे छान ले (ये हम इसलिए कर रहे है ताकि सभी सामग्री अच्छे से मिल जाए)।
  • फिर से बहुत अच्छी तरह से मिलाएं ताकि सभी सामग्री समान रूप से मिश्रित हो।
  • सूजी में थोड़ा थोड़ा करके गुनगुना पानी डालें।
  • एक समय में 1-2 बड़े चम्मच ही डाले और एक चिकना, लोचदार आटा गूँथ ले जो न तो बहुत नरम हो और न ही बहुत कड़क हो रवा पानी को सोख लेता है इसलिए यदि आप बहुत कड़ा आटा गूँथते हैं, तो बाद में आटे को बेलना बहुत मुश्किल हो जाएगा।
  • यदि आवश्यक हो तो थोड़ा पानी और डाले और एक नरम आटा तैयार करे।
  • एक गीले रसोई के कपड़े के साथ आटा को कवर करें और सेट करने के लिए 30 मिनट के लिए अलग रखें।

पूरी बनाने की विधि :

  • आटे को आराम देने के बाद, इसे रोलिंग बोर्ड पर रखें।
  • इसे गूँथ कर 2-3 मिनट के लिए चिकना और नरम होने तक अच्छी तरह से गूँथ लें। यह प्रक्रिया हमें गोल गप्पे कुरकुरे बनाने मे मदद करेगी।
  • आटा को 3 भागों में बाँट ले।
  • प्रत्येक भाग को लें और इसे गेंद की तरह गोल आकार दें। इसे अपनी हथेलियों से मसले और रोलिंग बोर्ड पर रखें।
  • रोलिंग बोर्ड पर एक आटे की गेंद को रखें और एक बड़ी गोल रोटी में बेल ले। बचे हुए आटे को हमेशा कपड़े से ढककर रखे ताकि आटा सूखे न और पूरी बनाते समय वे अच्छे से फूले।
  • बेले हुए आटे में कोई दरार नहीं होनी चाहिए और आप पूरे बेले हुए आटे को बिना तोड़कर अलग कर सकते हो।
  • एक पतली और गोल रोटी को बेलकर तैयार करें। गोलगप्पा बनाने के लिए रोटी को पतला बेलकर तैयार करना पड़ता है।
  • बेले हुए रोटी बहुत मोटी नहीं होनी चाहिए क्योंकि इससे गोलगप्पे पूरी तरह से नहीं फूलते हैं, और साथ मे ही रोटी इतनी पतली भी होनी चाहिए कि आप इसके माध्यम से बोर्ड की सतह को देख सकें।
  • कुकी कटर या एक छोटी कटोरी के साथ, रोल किए हुए आटे से छोटी गोल पूरियां काट लें।
  • अतिरिक्त आटा निकालें और इसे शेष आटा के साथ मिलाएं।
  • छोटे कटी हुए पूरियो को एक प्लेट में रखें बिना उन्हें एक-दूसरे को छूए।
  • एक नम रसोई तौलिया के साथ, इन पूरियों को कवर करके रखे।
  • बचे हुए आटे को एक साथ इकट्ठा करें और फिर से गूँथे, इसे रोल करें और एक ही प्रक्रिया को दोहराएं जब तक कि सारा आटा का उपयोग न हो जाए। इसी तरह से सारी पूरियां बना लें और उन्हें गीले किचन टॉवल में ढक कर रख दें।

पूरियां तलने की विधि :

  • मध्यम आंच पर एक गहरे फ्राइंग पैन में तेल को गरम करें।
  • तेल के सही तापमान के लिए, गर्म तेल में आटा गेंद का एक छोटा सा टुकड़ा डाले यदि आटे का टुकड़ा धीरे धीरे ऊपर आता है, तो तेल गर्म है और पूरियों को तली जा सकती है।
  • जब तेल मध्यम गर्म हो जाए, तो 7-8 पूरियां लें और उन्हें तेल मे डाले उन्हें एक साथ मत डाले, एक के बाद एक पूरी को ही डाले। वे गर्म तेल में डालते ही जल्दी से फूलने लगेगी।
  • आप एक चम्मच के साथ पूरी को घुमाये ताकि उन्हें फूलने में मदद मिल सके। तापमान बनाए रखने के लिए आँच को मध्यम से कम करें।
  • इसे दोनों तरफ से हल्का सुनहरा भूरा रंग होने तक तलते रहें।
  • अतिरिक्त तेल को अवशोषित करने के लिए उन्हें पेपर नैपकिन पर निकाल कर रखें।
  • बची हुई पूरियों को इसी तरह से तलें, तेल के तापमान को आवश्यकतानुसार बनाए रखें। यदि तेल बहुत गर्म है, तो पूरियां जल जाएंगी, और अगर यह गर्म है, तो पूरियां बहुत सारा तेल सोख लेंगी।
  • सूजी की पानी पूरी को ठंडा करे और एक एयर टाइट कंटेनर में स्टोर करें और 10 से 15 दिनों तक खाने के लिए तैयार है। जब भी आप गोल गप्पे खाना चाहते हैं, तो बस कंटेनर से बाहर निकालें और परोसें।

Nutrition

Calories: 130kcal

गोलगप्पे के लिए आटा गूँथने की विधि :

1. सभी आवश्यक सामग्री ले लीजिए।

2. एक कटोरा लें और सूजी, मैदा, नमक, और बेकिंग सोडा को छलनी में डालें।

3. इसे छान ले (ये हम इसलिए कर रहे है ताकि सभी सामग्री अच्छे से मिल जाए)।

4. फिर से बहुत अच्छी तरह से मिलाएं ताकि सभी सामग्री समान रूप से मिश्रित हो।

5. सूजी में थोड़ा थोड़ा करके गुनगुना पानी डालें।

6. एक समय में 1-2 बड़े चम्मच ही डाले और एक चिकना, लोचदार आटा गूँथ ले जो न तो बहुत नरम हो और न ही बहुत कड़क हो रवा पानी को सोख लेता है इसलिए यदि आप बहुत कड़ा आटा गूँथते हैं, तो बाद में आटे को बेलना बहुत मुश्किल हो जाएगा।

7. यदि आवश्यक हो तो थोड़ा पानी और डाले और एक नरम आटा तैयार करे।

8. एक गीले रसोई के कपड़े के साथ आटा को कवर करें और सेट करने के लिए 30 मिनट के लिए अलग रखें।

पूरी बनाने की विधि :

1. आटे को आराम देने के बाद, इसे रोलिंग बोर्ड पर रखें।

2. इसे गूँथ कर 2-3 मिनट के लिए चिकना और नरम होने तक अच्छी तरह से गूँथ लें। यह प्रक्रिया हमें गोल गप्पे कुरकुरे बनाने मे मदद करेगी।

3. आटा को 3 भागों में बाँट ले।

4. प्रत्येक भाग को लें और इसे गेंद की तरह गोल आकार दें। इसे अपनी हथेलियों से मसले और रोलिंग बोर्ड पर रखें।

5. रोलिंग बोर्ड पर एक आटे की गेंद को रखें और एक बड़ी गोल रोटी में बेल ले। बचे हुए आटे को हमेशा कपड़े से ढककर रखे ताकि आटा सूखे न और पूरी बनाते समय वे अच्छे से फूले।

6. बेले हुए आटे में कोई दरार नहीं होनी चाहिए और आप पूरे बेले हुए आटे को बिना तोड़कर अलग कर सकते हो।

7. एक पतली और गोल रोटी को बेलकर तैयार करें। गोलगप्पा बनाने के लिए रोटी को पतला बेलकर तैयार करना पड़ता है।

8. बेले हुए रोटी बहुत मोटी नहीं होनी चाहिए क्योंकि इससे गोलगप्पे पूरी तरह से नहीं फूलते हैं, और साथ मे ही रोटी इतनी पतली भी होनी चाहिए कि आप इसके माध्यम से बोर्ड की सतह को देख सकें।

9. कुकी कटर या एक छोटी कटोरी के साथ, रोल किए हुए आटे से छोटी गोल पूरियां काट लें।

10. अतिरिक्त आटा निकालें और इसे शेष आटा के साथ मिलाएं।

11. छोटे कटी हुए पूरियो को एक प्लेट में रखें बिना उन्हें एक-दूसरे को छूए।

12. एक नम रसोई तौलिया के साथ, इन पूरियों को कवर करके रखे।

13. बचे हुए आटे को एक साथ इकट्ठा करें और फिर से गूँथे, इसे रोल करें और एक ही प्रक्रिया को दोहराएं जब तक कि सारा आटा का उपयोग न हो जाए। इसी तरह से सारी पूरियां बना लें और उन्हें गीले किचन टॉवल में ढक कर रख दें।

पूरियां तलने की विधि :

1. मध्यम आंच पर एक गहरे फ्राइंग पैन में तेल को गरम करें।

2. तेल के सही तापमान के लिए, गर्म तेल में आटा गेंद का एक छोटा सा टुकड़ा डाले यदि आटे का टुकड़ा धीरे धीरे ऊपर आता है, तो तेल गर्म है और पूरियों को तली जा सकती है।

3. जब तेल मध्यम गर्म हो जाए, तो 7-8 पूरियां लें और उन्हें तेल मे डाले उन्हें एक साथ मत डाले, एक के बाद एक पूरी को ही डाले। वे गर्म तेल में डालते ही जल्दी से फूलने लगेगी।

4. आप एक चम्मच के साथ पूरी को घुमाये ताकि उन्हें फूलने में मदद मिल सके। तापमान बनाए रखने के लिए आँच को मध्यम से कम करें।

5. इसे दोनों तरफ से हल्का सुनहरा भूरा रंग होने तक तलते रहें।

6. अतिरिक्त तेल को अवशोषित करने के लिए उन्हें पेपर नैपकिन पर निकाल कर रखें।

7. बची हुई पूरियों को इसी तरह से तलें, तेल के तापमान को आवश्यकतानुसार बनाए रखें। यदि तेल बहुत गर्म है, तो पूरियां जल जाएंगी, और अगर यह गर्म है, तो पूरियां बहुत सारा तेल सोख लेंगी।

8. सूजी की पानी पूरी को ठंडा करे और एक एयर टाइट कंटेनर में स्टोर करें और 10 से 15 दिनों तक खाने के लिए तैयार है। जब भी आप गोल गप्पे खाना चाहते हैं, तो बस कंटेनर से बाहर निकालें और परोसें।

Leave a Comment